संदेश

January 13, 2008 की पोस्ट दिखाई जा रही हैं

नैनो के कमाल

नैनो के बहाने

उवाच लॉर्ड मैकाले का

तू डाल डाल, मैं पांत पात

इंडिया शाइनिंग, लेकिन फौज की चमक फीकी

क्या सियाचिन पर बने रहना सही ?