पासपोर्ट के लिए दुआ

हमारे देश की गंगा जमुनी संस्कृति में धार्मिक आस्था और विश्वास के कई रंग देखने को मिलते हैं...भले ही इनका कोई वैज्ञानिक आधार न हो लेकिन लोगों को इन पर भरोसा है और उनकी आस्था बहुत मजबूत है...आस्था और विश्वास का ऐसा ही नजारा आप देख सकते हैं जमशेदपुर में. इस मजार के करीब लगे पेड़ पर टंगे इन कागजात को देखिए...ये पासपोर्ट और पासपोर्ट बनवाने के लिए दी गई अर्जियों की फोटोकॉपी हैं...लेकिन आखिर इन्हें यहां क्यों लटकाया गया है...दरअसल ये पासपोर्ट बाबा की मजार है जमशेदपुर के हजरत सैयद मिस्कीन बाबा को लोग इस नाम से ज्यादा जानते हैं यहां आने वालों का मानना है कि जिसने भी यहां पासपोर्ट की फोटो कॉपी लगाई है बाबा ने उसकी विदेश जाने की मुराद जरूर पूरी की है..इतना नहीं पासपोर्ट की अर्जी की फोटो कॉपी यहां लगाने से लोगों का पासपोर्ट भी फटाफट बन जाता है..आस्था की इस मजार पर लोगों को पूरा भरोसा है इसी आस्था के चलते यहां पासपोर्ट की कॉपियां टांगने वालों की भीड़ लगी रहती है...लोगों को पुरा यकीन है कि बाबा उन्हें विदेश जरूर भेजेंगे...यहां पासपोर्ट टांगने के एक हफ्ते के अंदर कई लोगों को विदेश जाने का मौका मिला है इसी उम्मीद ने इस मजार में लोगों की आस्था को अटूट बना दिया है
video
video

टिप्पणियाँ

लोकप्रिय पोस्ट