20 साल का हो गया इंटरनेट...

आज से 20 साल पहले नौजवान ब्रिटिश वैज्ञानिक टिम बर्नर्स ली को भी शायद इस बात का एहसास नहीं होगा कि वह दुनिया को इंटरनेट नाम की जो सूचना प्रोद्यौगिकी की सौंप रहे हैं वह तमाम देशों की भौगोलिक दूरी को कम करने में सबसे कारगर साबित हो कर वैश्विक ग्राम की परिकल्पना को साकार करेगी।इंटरनेट की तकनीक ने दुनिया को ग्लोबल विलेज में तब्दील करने के सपने को साकार करने का उतार-चढ़ाव भरा 20 साल का सफर गत शुक्रवार को पूरा कर लिया। सूचनाओं के आदान-प्रदान की मद्धिम गति से हैरान परेशान सर टिम ने 13 मार्च 1989 को इस तकनीक के विचार को शोधपत्र के रूप में पेश किया था।स्विट्जरलैंड स्थित केर्न परमाणु अनुसंधान केन्द्र के 29 वर्षीय वैज्ञानिक सर टिम ने उस समय हालांकि इंटरनेट के भविष्य को 'अस्पष्ट' बताया था लेकिन इस तकनीक के बेहद दिलचस्प होने के बारे में उन्हें कोई शक नहीं था। केर्न में प्रोग्रामर के रूप में कार्यरत सर टिम को सूचनाओं से लेकर हर चीज को व्यवस्थित रूप देने का शौक सनक की हद तक था और उनकी इसी सनक का परिणाम था इंटरनेट।जिनेवा में उन्होंने अपनी इंटरनेट परियोजना को अमलीजामा पहनाने के लिए पहली वेबसाइट का निर्माण किया और 1991 में इसे ऑनलाइन किया गया। वर्ल्ड बाइड वेब 'डब्ल्यूडब्ल्यूडब्ल्यू' की शुरुआत से पहले उन्होंने अपनी संस्था में सहयोगियों के कामकाज से जुड़ी जानकारियों को आंतरिक तौर पर एक दूसरे से जोड़ने के लिए हाईपरटेक्स्ट की शुरुआत की।
वार्ता...

टिप्पणियाँ

२० वर्ष का इंटरनेट होने पे सभी को शुभकामना
अच्छी जानकारी, लेकिन इंटरनेट आरंभ होने की सही तारीख कौन सी है?
संगीता पुरी ने कहा…
जानकारी के लिए शुक्रिया ... भविष्‍य में मानव जाति के लिए और उपयोगी बने रहने के लिए शुभकामनाएं।

लोकप्रिय पोस्ट