व्हाइट वॉश होकर रहेगा





कीवियों को ध्वस्त करने उतरेगी धौनी की सेना, जी हां यही लाइन होगी भारतीय मीडिया की...लेकिन ये तय मानिये कि ऑकलैंड में शनिवार को होने वाले पांचवें और अंतिम वनडे अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट मैच में जीत के साथ सीरीज का जोरदार अंत होकर रहेगा...ये आत्मविश्वाश है...
भारतीय टीम ने पांच मैच की सीरीज में पहले ही 3-0 की अजेय बढ़त हासिल कर चुकी है और वह ईडन पार्क पर होने वाले पांचवें मैच में अपने रिजर्व खिलाड़ियों को आजमाना चाहती है। पेट की मांसपेशियों में खिंचाव के कारण पिछले मैच में न खेल पाने वाले सचिन तेंदुलकर को इस मैच में विश्राम दिया जा सकता है ताकि वह 18 मार्च से शुरू होने वाली टेस्ट सीरीज के लिए पूरी तरह फिट रहे। भारतीयों को हर तरह से इस मैच में जीत का दावेदार माना जा रहा है लेकिन न्यूजीलैंड के लिए यह मैच प्रतिष्ठा से जुड़ गया है और वह इसमें जीत दर्ज करके एक दिवसीय क्रिकेट की अपनी क्षमता से घरेलू प्रशंसकों कुछ को राहत पहुंचाना चाहेगी।
न्यूजीलैंड ने अपनी धरती पर लगातार छह सीरीजों में जीत दर्ज करने के बाद हार का स्वाद चखा है। भारतीय कोच गैरी क‌र्स्टन ने हालांकि साफ कर दिया है कि वह इस मैच को हल्के से नहीं लेंगे और टेस्ट सीरीज में भी वनडे की जीत का अभियान जारी रखना चाहेंगे। भारत अपने अंतिम एकादश में कुछ बदलाव करने को तैयार है। बाएं हाथ के स्पिनर प्रज्ञान ओझा और मध्यम गति के गेंदबाज इरफान पठान को स्वदेश लौटने से पहले मौका दिया जा सकता है। इन दोनों खिलाड़ियों के अलावा यूसुफ पठान, प्रवीण कुमार और रोहित शर्मा रविवार को स्वदेश लौट जाएंगे।
इरफान ट्वंटी 20 सीरीज में खेले थे जिसमें भारत 0-2 से पराजित हुआ था लेकिन ओझा को दौरे में अभी तक मौका नहीं मिला है। ओझा के लिए चयनकर्ताओं का विश्वास जीतने का यह आदर्श अवसर होगा। मैच में उनका लचर प्रदर्शन आलराउंडर रविंदर जडेजा के लिए रास्ता खोल सकता है जो एक दिवसीय टीम में दूसरे स्पिनर के लिए अपना मजबूत दावा पेश कर रहे हैं। भारतीय टीम प्रबंधन जहीर खान को भी टेस्ट सीरीज ध्यान में रखकर विश्राम दे सकता है। जहीर को ईशांत शर्मा के चोटिल होने से काफी जिम्मेदारी संभालनी पड़ी थी।
यदि तेंदुलकर को विश्राम दिया जाता है तो फिर वीरेंद्र सहवाग के साथ गौतम गंभीर ही पारी का आगाज करेंगे। हैमिल्टन में 201 रन की अटूट साझेदारी निभाने वाली दिल्ली की यह जोड़ी यदि अपनी लय बनाए रखती है तो फिर भारत को कीवियों पर क्लीन स्वीप करने से कोई नहीं रोक सकता जो 5-0 से जीत के जैसे ही होगा। यह देखना भी दिलचस्प होगा कि कल के दिन-रात्रि मैच में कितनी गेंद गुम होती है क्योंकि ईडन पार्क मैदान की बाउंड्री क्राइस्टचर्च से भी छोटी है जहां ट्वेंटी 20 मैच में 24 और एक दिवसीय मैच में रिकार्ड 31 छक्के लगे थे। बेहतरीन फार्म में चल रहे सहवाग इस मैदान पर दोहरा शतक लगाने की कोशिश कर सकते हैं जिस पर उनके 60 गेंद पर शतक जमाने के बाद चर्चा छिड़ी हुई है।
न्यूजीलैंड टेस्ट सीरीज से पहले मनोबल बढ़ाने के लिए सांत्वना जीत हासिल करने की कोशिश करेगा। कप्तान डेनियल विटोरी घरेलू दर्शकों के सामने 4-0 की हार से बचने के लिए प्रतिबद्ध हैं लेकिन भारतीय बल्लेबाजों की फार्म को देखते हुए न्यूजीलैंड को सीरीज में पहली जीत के लिए कुछ विशिष्ट प्रदर्शन करना होगा। न्यूजीलैंड के गेंदबाज भारतीय बल्लेबाजों विशेषकर सहवाग से बुरी तरह खौफ खाए हैं और कीवियों को हाल के दिनों में सबसे बुरे दौर से गुजरना पड़ रहा है।

टिप्पणियाँ

वैसे अगर हम इसी तरह एक जीत के गर्व में चूर रहे तो ....
ashwin ने कहा…
जी हम जरुर जीतेंगे !!!!!!!!!!

भारत माता की जय.......
PD ने कहा…
और अंततः हम हार गए.. :(

लोकप्रिय पोस्ट